On friends and enemies

खुदा की मोहब्बत को फनाह कौन करेगा,
सभी बन्दे नेक हों तो गुनाह कौन करेगा।
ऐ खुदा मेरे दोस्तों को सलामत रखना,
वरना मेरी सलामती की दुआ कौन करेगा।
और रखना मेरे दुश्मनों को भी महफूज़,
वरना मेरी तेरे पास आने की दुआ कौन करेगा।

Lekhika: Shayar Ki Kalam Se !!