On comparing languages

हिन्दी नायाब है
छू लो तो-चरण
अड़ा दो तो-टांग
धँस जाए तो-पैर
आगे बढ़ाना हो तो-क़दम
राह में चिह्न छोड़े तो-पद
प्रभु के हों तो-पाद
बाप की हो तो-लात
गधे की पड़े तो-दुलत्ती
घुंघरू बाँध दो तो-पग
खाने के लिए-टंगड़ी
खेलने के लिए-लंगड़ी

अंग्रेजी में सिर्फ़-LEG