On mesmerising

एक ख्वाब ने आंखें खोली हैं, क्या मोड़ आया है कहानी में
वो भीग रही है बारिश में, और आग लगी है पानी में

.

Ek khwaab ne aankhein kholi hain
Kya mod aaya hai kahaani mein
Wo bheeg rahi hai baarish mein
Aur aag lagi hai paani mein