On Sunday

​इक इतवार ही है जो रिश्तों को संभालता है

 बाकी दिन तो किश्तों को संभालने में खर्च हो जाते हैं।

Source